Processor क्या होता है ? ये कैसे काम करता है ?

आप अगर कंप्यूटर या मोबाइल का use करते है तो आप Processor से जरूर परिचित होंगे क्युकी computer हो या फिर leptop सब के लिए processor होना बहुत ही अनिवार्य माना जाता है क्युकी प्रोसेसर के बिना इसकी कल्पना भी नहीं कर सकते है .यहाँ तक की आप कंप्यूटर को on भी नहीं कर पाएंगे . हमारे कंप्यूटर के सञ्चालन के लिए computer processor बहुत ही जरुरी है .

आपके दिमाग में इस तरह के सवाल जरूर उठ रहे होंगे कि What is Processor in Hindi तथा प्रोसेसर कैसे काम करता है ,ये कंप्यूटर के लिए क्यों जरुरी है ? क्या प्रोसेसर के बिना कंप्यूटर को चलना संभव है ? processor meaning in hindi इन सब के बारे में आपको विस्तार से जानकारी देंगे . आप निचिंत रहे हम आपको computer processor in hindi से जुडी हर जानकारी आपके साथ साझा करने का पूरा प्रयाश करेंगे .

कंप्यूटर के processor की efficiency कभी काम होती तो कभी ज्यादा भी होती है ऐसे में सबका अपना लग मूल्य होता है उनके कार्य करने का तरीका भी अलग होता है .आप processor के बिना कंप्यूटर को नहीं चला पाएंगे . processor हर कंप्यूटर या फिर लेपटॉप के लिए होना अनिवार्य है . उदाहरण के लिए अगर आपको कह दिया जाये की आपको खाना नहीं मिलेगा जिंदगी भर और आपको ये जीवन जीना है तो कैसे संभव है . (what is processor in hindi )

Processor in hindi

processor को कही नामो से जाना जाता है जैसे की CPU , central processor , microprocessor CPU .
CPU को कंप्यूटर का मतिष्क यानि की दिमाग कहा जाता है .इसके बिना कंप्यूटर का कोई अस्तिव्त नहीं है , कंप्यूटर की सारी क्रियाकलाप पर नजर रखता है तथा ये कंप्यूटर का एक मुख्य भाग है इसके बिना कंप्यूटर को कंप्यूटर नहीं कहा जा सकता . CPU Full Form in hindi – Central Processing Unit होता है .

cpu कंप्यूटर में हो रही सारी प्रोसेस का आधार होता है . जब भी कोई user कंप्यूटर को input देता है तो cpu इसके ऊपर काम करता है यानि की इनपुट किये गए डाटा के ऊपर processing करता है फिर उस डाटा को प्रोसेस करने के बाद यूजर को output के रूप में देता है . (what is processor in hindi )

Processor kaise help karta hai ?

बहुत ही कम समय में यूजर द्वारा दिए गए डाटा पर calculation करके यूजर को देता है जिससे काफी समय की बचत हो जाती है . एवं cpu ही वो जरिया है जिसके माध्यम से हम डाटा को एक्सेस कर पाते है .

आप सोच सकते है की ये इतनी छोटी चीज़ किस प्रकार पुरे कंप्यूटर को हैंडल करती है और ये कम समय में कंप्यूटर का लगभग सारा काम कर लेती है . तो आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको processer kya hai तथा ये कैसे काम करता है कितने प्रकार का होता है (type of processor in hindi ) के बारे में पूरी जानकारी देंगे .

processor in hindi - prabhu barmer

processor क्या है ? What is Processor in Hindi

बात करे processor की तो ये एक कंप्यूटर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग माना जाता है . इसके बिना कंप्यूटर का कोई भी कार्य करना संभव नहीं है . कंप्यूटर में हो रही सारी गतिविधियों को ये ध्यान में रखता है . कंप्यूटर की सारी हर चीज के ऊपर ये ध्यान रखता है

यह एक समय में कई सेकड़ो गणनाये कर सकता है , ये हमारे समय को बचने के साथ साथ हमारे काम और भी आसान बना देता है . ये सॉफ्टवेयर तथा हार्डवेयर के मध्य सम्बन्ध स्थापित करता है . जब ही user कोई निर्देश देता है तो ये उस input पर processing करके यूजर को output प्रदान करता है . (what is processor in hindi )

Processor क्यों जरुरी है ?

यह सभी उपकरणों के अंदर पाया जाता है जैसे mobile phone , computer , leptop , तथा टैबलेट में भी पाया जाता है .
बात करे इसके आकर की तो ये दिखने में बिलकुल एक Square Shaped device के जैसा होता है . ये बहुत ही नाजुक होने के कारण इसको बहुत ही बारीकी से आपके CPU के अंदर मदरबोर्ड में set किया जाता है .

ज्यादा समय तक चलते रहने से ये है ये गर्म (Heat) होने लगता है, इसी वजह से इसके ऊपर एक fan लगाया जाता है जो इसको cooling प्रदान करता है . कभी कभी आपके CPU में धूल मिटटी के जमा हो जाने की वजह से ये और भी ख़राब हो सकता है इसलिय समय पर इसकी सफाई करते रहा करे .

Processor के प्रकारो की बात करे तो ये intel i3 , i5 तथा i7 होते है . (what is processor in hindi )

Processor कैसे काम करता है ?

अपने processor की परिभासा तो पढ़ ली किन्तु आपके मन में ये सवाल जरूर उठ रहा होगा की आखिर प्रोसेसर काम कैसे करता है . आपकी जानकारी के लिए बता दे की प्रोसेसर के बिना कंप्यूटर का होना संभव नहीं है ऐसे में ये बहुत ही अनिवार्य हो जाता है आपके कंप्यूटर के लिए . आज के मार्किट में बहुत सी ऐसी कम्पनी है जो प्रोसेसर बनाकर sell कर रही है .

प्रोसेसर बनाने वाली दो मुख्य कम्पनी है जो आज के समय में काफी सर्चा में है . पहली Intel और दूसरी AMD , ये काफी popular कम्पनी है जो प्रोसेसर बनती है . काम करने का तरीका दोनों का अलग है और इनकी गुणवत्ता की बात करे तो ये एक दूसरे से काफी भिन्न है . company के आधार पर ही processor की पहचान होती है इसलिए सब प्रोसेसर को उसकी कम्पनी से जानते है .

प्रोसेसर के काम करने का तरीका

हर कंपनी अपनी प्रतिस्प्रधा में दूसरी कम्पनी से बेहतर व् कम लागत वाला सॉफ्टवेर बनाना पसंद करती है , वे निरंतर इसके ऊपर ही कम करते है .

प्रोसेसर दिखने में भलेही छोटा सा दीखता हो पर इसको बनाने हेतु मुख्य 4 Process से गुजरना होता है तभी जाकर ये अंतिम रूप ले पाता है . (what is processor in hindi )

fetch, decode, execute और Write-back ये चारो प्रोसेस से जब प्रोसेसर गुजरता है तभी वह एक पूर्ण प्रोसेसर कहलाता है . तो आईये जानते है इन मुख्य चार प्रोसेस के बारे में जो प्रोसेसर के लिए बहुत ही आवश्यक है .

1. Fetch

fatch से ताप्तर्य है डाटा को कही से इक्क्ठा करने से है . प्रोसेसर का काम ram से डाटा को अपने पास लाना ,एवं ram हमारे द्वारा दिए गए इंट्रोडक्शन के डाटा को अलग अलग भागो में विभाजित कर देती है .जिसको हम प्रोग्राम के नाम से जानते है . हमारे द्वारा दी गयी इंट्रोडक्शन का थोड़ा थोड़ा डाटा अपने पास लता रहता है और उस पर processing start करता है .

2. decode

fatch की प्रक्रिया से गुजरने के बाद CPU का काम बचता है डाटा को decode करना। कहने का तात्पर्य है की यूजर द्वारा दिए गए इनपुट को एक जगह पर स्टोर करना होता है। जब दी गई कमांड को एक सर्किट से पास किया जाता है तो उस प्रक्रिया को डिकोड कहा जाता है। इससे आगे की प्रोसेस को काम डिकोड कह सकते है।

जो की इनपुट को सिग्नल के फॉर्मेट में ट्रांसफर करके CPU के logical unite में भेजने का कार्य करता है। जिसे हम अर्थमेटिक लॉजिकल यूनिट के नमे से भी जान सकते है। इसके उपरांत हम अपना आउटपुट computer screen या फिर प्रिंटर पर देख पाएंगे ये उसके लिए तैयार हो जाता है।

3. Execut

जब पूरी जानकारी decode हो जाती है तो उसको cpu के control unite से गुजरना होता होता है । उसके उपरांत इस डाटा को एक्जिक्यूट किया जाता है और उस डाटा के आउटपुट को तैयार किया जाता है। फिर इस डाटा को मेमोरी में भेजा जायेगा जिससे मेमोरी ये सब कण्ट्रोल क्र पाए । .

4. Back process

जब साडी प्रक्रिया हो जाती है । उस समय सबसे आखिरी काम होता है जिसमे हमारा डाटा प्रिंटिंग के लिए तैयार होकर बाहर आता है। इसकी सहायता से हम डाटा को अपनी लेपटॉप या फिर कंप्यूटर की स्क्रीन या फिर प्रिंट आउट भी देख सकते है । यह सबसे लास्ट कदम होता है प्रोसेसर का जिसमे डाटा को यूजर तक पहुंचाया जाता है।

प्रोसेसर के प्रकार

Budget processor

आज के युग में इस प्रोसेसर की डिमांड बहुत बढ़ गयी है। ज्यादातार लोग कम कीमत एवं ज्यादा टिकाऊ माल चाहते है। ऐसे में हमारे पास एक है ऑप्शन बचता है की हम bedget processor को ख़रीदे। इस तरह के प्रोसेसर बिजली की खपत को कम कर देते है। घरेलु उपयोगो के लिए एवं छोटे मोटे कामो के लिए इस तरह के प्रोसेसर का उपयोग किया जाता है । यह कम कीमत में मिलने की वजह से लोग इसका ज्यादा उपयोग करते है एवं ज्यातर लोग इसकी तरह भी अपना रुख रखते है।

Intel celeron

इस प्रोसेसर को जब पहली बार मार्किट में लाया गया तब ये ज्यादा popular नहीं हुआ। इसकी वजह थी इसकी काम करने की शक्ति में कमी तथा ज्यादा लगता का होना। ये बाकि प्रोसेसर से बहुत महंगा हुआ करता था और इसकी quality भी नहीं अच्छी नहीं मानी जाती थी। ऐसी वजह से इस कम्पनी ने दुबारा इसको अपग्रेड करने की सोची।

इसको पुनः अपग्रेड करने के बाद मार्किट में लाया गया। इसकी करप्रणाली में भी काफी सूधार किया गया, साथ ही इसमें कुछ सुधार किया गया जिससे ये कम पॉवर खपत करता है . अभी बाजार में आज के समय में काफी प्रचलन में है और इसकी डिमांग पहले के मुकाबले काफी बढ़ गयी है . (what is processor in hindi )

Intel Pentium 4

ये प्रोसेसर काफी तेज और अच्छी गुणवत्ता वाला मन जाता है . क्योकि इसके कार्य करने की क्षमता बाकि प्रोसेसर से कई ज्यादा है . ये 3.2 GHz speed पर काम करता है . इतनी स्पीड बाकि प्रोसेसर की नहीं है . इसी वजह से ये काम करने और बिजली की बचत में सबसे आगे है . ये ज्यादा heavy सॉफ्टवयेर को चलाने में में कारगर है .

Main stream processor

इस तरह के प्रोसेसर ज्यादा पॉवर का उपयोग करते है . इसलिए ये ज्यादा मार्किट में नहीं चल पाते . इसको उपयोग करने हेतु हमें पहले मदरबोर्ड की जाँच करनी अनिवार्य है . यह ज्यादार कोर तथा केस का उपयोग करता है .

Dual core processor

ये प्रोसेसर ज्यादातर उपयोग किया जाने वाला प्रोसेसर माना जाता है . जैसा की हमें नाम से ही प्रतीत होता है की इसमें दो प्रोसेसर लगे हुए है .जो की इसकी कार्य करनी की क्षमता को काफी हद तक बढ़ा देते है . इससे ये बहुत ही तेज गति से काम करने लगता है और आपके system पर ज्यादार load नहीं पड़ने देता है . ये कम समय में ही यूजर को दिए गए इनपुट पर प्रोसेसिंग करके आउटपुट दे देता है .

AMD athlon 64×2

इस तरह के प्रोसेसर का उपयोग ज्यादा load वाले काम को करने हेतु किया जाता है . अगर कोई मुश्किल टास्क होता है तो उसके लिए इस तरह के प्रोसेसर की सहायता ली जाती है .इसमें एक प्रकार का सर्किट लगा होता है . जिसे आप अपनी सुविधानचार मदरबोर्ड में set कर सकते है .

Intel Pentium D

Intel pentium D को काफी अच्छा माना जाता है . ये quality तो अच्छी देता ही है साथ ही ये कम पॉवर में भी काम कर सकता है . इस तरह के प्रोसेसर को हर तरह के CPU या मदरबोर्ड से कनेक्ट किया जा सकता है . ये एक USB के रूप में भी आता है जिसे आप CPU से अटैच करके लगा सकते है और ऐसे आप चाहे तो cpu के बाहरी भाग में भी रख सकते है . इस पर काम करके आपको बहुत ही अच्छा महसूस होगा .

AMD processor

AMD के प्रोसेसर बाकि प्रोसेसर के मुकाबले काफी सस्ते माने जाते है . इनके कार्य करने की क्षमता भी बाकि प्रोसेसर से थोड़ी कम होती है . ये जल्दी गर्म भी हो जाते है जिससे की आपके कंप्यूटर या फिर लेपटॉप हीट होने लगता है . अगर आप ऐसे अपने लेपटॉप में use कर रहे है तो आपकी बैटरी भी डैमेज हो सकती है .

By Prabhu Barmer

आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको प्रोसेसर से जुडी हर वो जानकारी साझा की जो उपयोगी थी . हमने आपको बताया की processor kya hai , तथा processor in hindi ये कैसे काम करता है . साथ ही हमने type of processor के ऊपर भी नजर डाली . प्रोसेसर कैसे काम करता है ये जानकारी भी हमें important लगी इसलिए आपके साथ साझा की .
हम आशा करते है की आपको हमारा article पसंद आया होगा .
अगर आपको कुछ नया सिखने को मिला हो तो please इसे अपने मित्रो व् social media पर share करे .

 

Read More…

  1. What is operating system in hindi full information
  2. Web server kya hota hai ? what is web server in hindi
  3. Computer kya hai ? kitane prakar ka hota hai ?
  4. Mutual fund kya hai ? full inforamtion about mutual fund in hindi
  5. Signal app kya hai full informtion in hindi

1 thought on “Processor क्या होता है ? ये कैसे काम करता है ?”

Leave a Comment